राजस्थान की डीजीपी के नाम से यूपी पुलिस के अधिकारियों को आतंकी अलर्ट की भेजी गई मेल

राजस्थान की डीजीपी के नाम से यूपी पुलिस के अधिकारियों को आतंकी अलर्ट की भेजी गई मेल

 लखनऊ। स्वतंत्रता दिवस से पहले माहौल बिगाडऩे की साजिशें भी तेज हो गई हैं। पुलिस चौकन्नी है तो शरारती तत्व भी सक्रिय। राजस्थान की डीजीपी के नाम से प्रदेश पुलिस के अधिकारियों आतंकी अलर्ट की मेल भेजी गई है। मेल संज्ञान में आने के बाद वरिष्ठ पुलिस अधिकारी सक्रिय हो गए और छानबीन शुरू कराई गई। हालांकि कुछ देर बाद ही साफ हो गया कि मेल शरारती तत्वों ने भेजी है, जिसमें किसी हैकर की अहम भूमिका है। सूत्रों का कहना है कि अब साइबर क्राइम सेल मामले की छानबीन में जुटी है। प्रदेश पुलिस के अधिकारी राजस्थान पुलिस के अधिकारियों के भी सीधे संपर्क में हैं। हालांकि पूरे मामले को लेकर पुलिस अधिकारी कुछ बोलने से कतरा रहे हैं।

आशंका है कि साइबर अपराधियों ने राजस्थान के डीजीपी की मेल आइडी को हैक कर यह हरकत की है। प्रदेश पुलिस के अधिकारियों की मेल आइडी पर भेजे गए अलर्ट में कहा गया कि सेना की वर्दी में आतंकी यूपी-राजस्थान की सीमा पर हैं। बताया गया कि यूपी पुलिस ने जब राजस्थान पुलिस से संपर्क किया तो स्पष्ट हो गया कि राजस्थान के डीजीपी की ओर से ऐसा कोई अलर्ट जारी नहीं किया गया है। जिस आइडी व आइपी ऐड्रेस से मेल भेजी गई थी, उसकी पड़ताल की जा रही है।

स्वतंत्रा दिवस पर मुस्तैद रहेंगे एटीएस के कमांडो भी

स्वतंत्रा दिवस पर प्रदेश में चप्पे-चप्पे पर कड़ी सुरक्षा-व्यवस्था होगी। प्रमुख व संवेदनशील स्थानों पर पीएसी के साथ एटीएस के कमांडो भी मुस्तैद रहेंंगे। डीजीपी मुकुल गोयल ने वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को खुद फील्ड पर निकलकर प्रभावी चेकि‍ंग कराने समेत कई कड़े निर्देश दिए हैं। कहा है कि ड्रोन कैमरों के जरिए कड़ी निगरानी की जाए। होटल, धर्मशाला, लाज समेत बाजार व माल में सघन चेकि‍ंग कराए जाने के साथ ही संदिग्धों पर कड़ी नजर रखने का निर्देश दिया गया है

डीजीपी ने कहा है कि रेलवे स्टेशन, मेट्रो स्टेशन, बस अड्डा, एयरपोर्ट, बाजार व अन्य प्रमुख स्थलों पर विशेष सुरक्षा प्रबंध किए जायें। इसके साथ ही प्रदेश के हर कोने में ग्लाइडर, ड्रोन व मानव रहित वायुयान की उड़ानों पर सतर्क ²ष्टि रखी जाये। एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि प्रदेश में कानून-व्यवस्था की ड्यूटी के लिए 141 कंपनी पीएसी मुस्तैद की गई है। इसके अलावा विशिष्ट लोगों व प्रमुख संस्थानों की सुरक्षा में 69 कंपनी पीएसी लगाई गई है। एसडीआरएफ की तीन कंपनियां भी लगाई गई हैं। प्रदेश में सात कंपनी अर्धसैनिक बल भी तैनात किया गया है। प्रदेश से जुड़ी करीब 550 किलोमीटर की अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर एसएसबी के समन्वय से कड़ी सतर्कता बरती जा रही है। सभी पुलिस अधिकारियों को शनिवार सुबह से खुद प्रभावी चेकि‍ंग व फुट पेट्रोलि‍ंग कराने के निर्देश भी दिए गए हैं। एडीजी का कहना है कि दिल्ली पुलिस के समन्वय से एनसीआर क्षेत्र में चेकि‍ंग व यातायात व्यवस्था को लेकर विशेष प्रबंध किए जा रहे हैं। जरूरत के अनुरूप डायवर्जन लागू करने के निर्देश भी दिए गए हैं

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share