शिक्षा विभाग में लापरवाही पर पांच सीईओ और 12 बीईओ के खिलाफ हुई कार्रवाई

शिक्षा विभाग में लापरवाही पर पांच सीईओ और 12 बीईओ के खिलाफ हुई कार्रवाई

पीएम श्री योजना के तहत आयोजित कार्यशाला में उपस्थित न होने पर समग्र शिक्षा के राज्य परियोजना निदेशक बंशीधर तिवारी ने पांच सीईओ और 12 बीईओ के खिलाफ कार्रवाई की है। सभी 17 अधिकारियों को वर्ष 2024-25 के लिए प्रतिकूल प्रविष्टि दी गई है। राज्य परियोजना निदेशक के मुताबिक, पीएम श्री केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है। योजना के तहत प्रदेश के कई विद्यालयों का चयन किया गया है। इन विद्यालयों में वे सुविधाएं दी जाएंगी। जिनकी स्कूल और बच्चों को जरूरत होती है, लेकिन विभागीय अधिकारियों ने देहरादून में आयोजित कार्यशाला में न पहुंचकर लापरवाही की है।

इससे उनकी विभागीय कार्य के प्रति उदासीनता का पता चलता है। राज्य परियोजना निदेशक बंशीधर तिवारी ने मुख्य शिक्षा अधिकारी अल्मोड़ा अंबादत्त बलोदी, मुख्य शिक्षा अधिकारी बागेश्वर गजेंद्र सोन, मुख्य शिक्षा अधिकारी नैनीताल जगमोहन सोनी, मुख्य शिक्षा अधिकारी पिथौरागढ़ अशोक कुमार जुकारिया और मुख्य शिक्षा अधिकारी ऊधमसिंह नगर कुंवर सिंह रावत को वर्ष 2024-25 के लिए प्रतिकूल प्रविष्टि दी है।

इसे  भी पढ़ें – तीन दिन में 75,139 श्रद्धालु कर चुके केदारनाथ धाम में दर्शन

बीईओ सल्ट अल्मोड़ा हरेंद्र शाह, बीईओ बागेश्वर डीसी सती, बीईओ रायपुर हेमलता गौड़, खानपुर हरिद्वार अयाजुद्दीन, भीमताल नैनीताल कैना, औखलकाण्डा नैनीताल सुलोहिता नेगी, कोट पौड़ी दीप्ति यादव, बिण पिथौरागढ़ गणेश ज्याला, अगस्तमुनि रुद्रप्रयाग अतुल सेमवाल, जाखणीधार टिहरी दमयंती रावत एवं बीईओ प्रतापनगर टिहरी पूनम चौहान को प्रतिकूल प्रविष्टि दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share