चारधाम यात्रा में पंजीकरण के लिए रुकना पड़ा तो प्रशासन करेगा रहने-खाने का इंतजाम

चारधाम यात्रा में पंजीकरण के लिए रुकना पड़ा तो प्रशासन करेगा रहने-खाने का इंतजाम

चारधाम यात्रा की व्यवस्थाओं का गढ़वाल आयुक्त विनय शंकर पांडेय ने निरीक्षण कर कहा, पंजीकरण के दौरान यात्रियों को दो-चार दिन बाद का स्लाॅट मिलता है तो उनके रहने, खाने का इंतजाम प्रशासन करेगा। गढ़वाल आयुक्त रविवार शाम पौने चार बजे ट्रांजिट कैंप पहुंचे। कहा, हमें संतुलन बनाकर चलना है। जो यात्री यहां पहुंचे हैं, उन सभी का पंजीकरण कराने के बाद उन्हें दर्शन कराने हैं। धामों के सभी जिलाधिकारी उनके संपर्क में हैं। जैसे वहां से स्थिति सामान्य होने की जानकारी मिलेगी, वैसे यहां से यात्रियों के अलग-अलग समूहों को टुकड़ों में छोड़ा जाएगा।

इसे भी पढ़ें – केदारनाथ में मंदिर के दर्शन के लिए चरम पर श्रद्धालुओं का उत्साह

तीन दिन एकदम भीड़ बढ़ने के सवाल पर कहा, शनिवार और छुट्टियों के कारण कुछ भीड़ आ गई थी। अब स्थिति सामान्य है। यमुनोत्री जाने वाले कुछ यात्रियों को रोकने के सवाल पर कहा, वहां पर ज्यादा भीड़ होने पर कुछ यात्रियों को रोका गया था, स्थिति सामान्य होने पर भेज दिया गया है। निरीक्षण के दौरान ट्रांजिट कैंप में पंजीकरण की व्यवस्था देखी। नगर आयुक्त शैलेंद्र नेगी ने उन्हें बताया कि 12 काउंटरों पर पंजीकरण किया जा रहा है। उन्होंने डॉरमेट्री का भी निरीक्षण किया। एक यात्री ने शिकायत की कि सामान रखने की जो आलमारी है, उसमें किसी प्रकार का ताला नहीं है। ऐसे में वह आलमारी में कैश और अन्य सामान नहीं रख पा रहे हैं। आयुक्त ने अपर आयुक्त गढ़वाल नरेंद्र सिंह क्वीरियाल को जल्द ताले मंगाकर लगाने का इंतजाम करने के निर्देश दिए। एक कर्मचारी की ड्यूटी डॉरमेट्री में लगाने को कहा।

निर्देशित किया, डॉरमेट्री के चादर और तकिये साफ-सुथरे होने चाहिए। उन्होंने ट्रांजिट कैंप परिसर में लगाए गए शामियाने को देखा। इस मौके पर एसडीएम कुमकुम जोशी, अपर निदेशक पर्यटन वाईएस गंगवार, एआरटीओ अरविंद पांडेय, एआरटीओ मोहित कोठारी, अरविंद श्रीवास्तव, सुधीर जोशी आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share