पूरे देश की हम पर नजर, यूसीसी सबके हित में, चिंतित होने की आवश्यकता नहीं – सीएम धामी

पूरे देश की हम पर नजर, यूसीसी सबके हित में, चिंतित होने की आवश्यकता नहीं – सीएम धामी

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि समान नागरिक संहिता (यूसीसी) सबके हित में है और किसी को भी चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है। मुख्यमंत्री सोमवार को विधानसभा में मीडियाकर्मियों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि समान नागरिक संहिता का प्रदेश और देशवासियों को लंबे समय से प्रतीक्षा थी। सभी इंतजार कर रहे थे कि यह उत्तराखंड की विधानसभा में कब पेश होगा। अब यह इंतजार समाप्त हो रहा है। मंगलवार को यह विधानसभा में पेश हो रहा है। विधेयक के रूप में इस पर चर्चा होगी। पूरा देश उत्तराखंड को देख रहा है। उत्तराखंड के लिए यह युगांतकारी समय है। उन्होंने कहा कि मातृ शक्ति के उत्थान के लिए सभी लोग सकारात्मक रूप से चर्चा में भाग लें। यह हर पंथ, हर समुदाय और हर धर्म के लिए है।

2022 के विधानसभा चुनाव से पूर्व हमने प्रदेश की जनता के सामने यह संकल्प रखा कि नई सरकार का गठन होते ही सभी धर्मों के लिए समान कानून पर काम करेंगे। समान नागरिक संहिता लाएंगे। वह समय अब आ गया है। हम सभी गौरवांवित हैं कि यह सौभाग्य उत्तराखंड को मिल रहा है, जिसे देश को लंबे समय से आवश्यकता थी। विपक्ष की शंकाओं पर धामी ने कहा कि भारत के संविधान के अनुरूप समान नागरिक संहिता रहेगी। अभी तो ड्राफ्ट सदन में आया नहीं है। विधेयक रूप में अभी उसे पेश होना है। इस तरह की शंका करना निराधार है। यह सबके हित में बनाया गया है। किसी को भी चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है

देश को नकल विरोधी कानून की भी जरूरतः धामी
लोकसभा में नकल विरोधी विधेयक पेश होने पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार जताया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने उत्तराखंड में लागू कठोर नकल विरोधी कानून जैसा बिल पेश कर हमारा मनोबल बढ़ाया है। देश को नकल विरोधी कानून की जरूरत है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री युगदृष्टा हैं। देश के हर जन गण मन की चिंता करते हैं। युवाओं और प्रतियोगी परीक्षा में भाग लेने वाले नकल के कारण कठिनाई आती हैं। वह सब काम करते हैं, जो देश हित में हो। नकल विरोधी कानून की देश को जरूरत है, वह पीएम के नेतृत्व में धरातल पर उतर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share