सचिव मुख्यमंत्री आवास वित्त विभाग उत्तराखंड शासन की अध्यक्षता में ग्राम चैपाल का आयोजन कर ग्रामीणों की समस्याओं को सुना

सचिव मुख्यमंत्री आवास वित्त विभाग उत्तराखंड शासन की अध्यक्षता में ग्राम चैपाल का आयोजन कर ग्रामीणों की समस्याओं को सुना

सचिव मुख्यमंत्री आवास वित्त विभाग उत्तराखंड शासन सुरेंद्र नारायण पांडेय ने सरकार जनता के द्वार कार्यक्रम के तहत विकास खंड ऊखीमठ के मनसूना में ग्राम चैपाल का आयोजन किया गया जिसमें ग्रामीणों द्वारा क्षेत्र की विभिन्न समस्याओं से अवगत कराया गया जिसमें क्षेत्र में सड़क की डामरीकरण एवं सुधारीकरण की मांग की गई तथा इसके साथ ही पीएमजीएसवाई द्वारा रोड कटिंग के कारण जो जमीन अधिग्रहित की गई है उसका मुआवजा भी उपलब्ध कराने की मांग की गई तथा वर्तमान में आधार कार्ड बनाने की मांग की गई तथा क्षेत्र में नेटवर्क की व्यवस्था को भी दुरस्त करने की मांग की गई। इसके साथ ही पात्र व्यक्तियों के बीपीएल कार्ड बनाए जाने की मांग की गई। तथा इंटर काॅलेज में गणित के टीचर की व्यवस्था करने की मांग की गई तथा महिला समूह द्वारा अपने रोजगार के लिए उचित स्थान की मांग की गई।

ग्राम चौपाल के दौरान सचिव ने क्षेत्र वासियों द्वारा सड़क डामरीकरण एवं सुधारीकरण की मांग पर अधिशासी अभियंता लोनिवि को निर्देश दिए हैं कि उपलब्ध बजट के अनुसार जिन स्थानों पर सड़क की स्थिति ठीक नहीं है एवं सड़क का सुधारीकरण कार्य किया जाना है उन्हें प्राथमिकता से दुरस्त करना सुनिश्चित करें तथा डामरीकरण का कार्य तत्परता से किया जाए। उन्होंने पीएमजीएसवाई को निर्देश दिए हैं कि जिन ग्रामीणों को मुआवजा की धनराशि उपलब्ध कराई जानी है सभी का सर्वे कराते हुए तथा कितना मुआवजा किस परिवार का होता है उन्हें शीघ्रता से मुआवजा उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। आधार कार्ड बनाए जाने के लिए उन्होंने तहसीलदार को निर्देश दिए हैं कि रोस्टर के आधार पर ग्रामीणों के आधार कार्ड बनाना सुनिश्चित करें ताकि किसी को कोई समस्या न होने पाए। बीपीएल कार्ड बनाए जाने के संबंध में खुली बैठक आयोजित कर अपात्र व्यक्तियों को सूची से पृथक कर पात्र व्यक्तियों को चयनित करने के निर्देश दिए। महिला समूहों द्वारा अपना प्रोडक्ट तैयार करने के संबंध में उद्योग विभाग के भवन में संचालित करने के संबंध में महाप्रबंधक उद्योग, वीडीओ एवं प्रधान के साथ बैठक करते हुए समस्या का समाधान करने के निर्देश दिए तथा इंटर काॅलेज में गणित टीचर की व्यवस्था के लिए मुख्य शिक्षा अधिकारी को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

इस अवसर पर सचिव ने संबंधित अधिकारियों से कहा कि चौपाल के माध्यम से जो भी समस्याएं ग्रामीणों द्वारा बताई गई हैं उनका निदान तत्परता से करना सुनिश्चित करें। इसमें किसी भी तरह से कोई विलंब न किया जाए। उन्होंने कहा कि सरकार का मुख्य उद्देश्य है कि दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्रों में रह रहे व्यक्तियों की समस्या का समाधान तत्परता से हो तथा सरकार द्वारा संचालित जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ उन्हें उपलब्ध हो इसके लिए सभी अधिकारी बेहतर ढंग से कार्य करें तथा योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार कराते हुए उनका लाभ जनता तक उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।

चौपाल कार्यक्रम के बाद सचिव द्वारा महिला समूहों द्वारा स्वरोजगार के लिए किए जा रहे कार्यों का भी स्थलीय निरीक्षण किया जिसमें मधुगंगा समूह द्वारा रिंगाल के माध्यम से तैयार किए जा रहे विभिन्न तरह के उत्पाद एवं दुग्ध उत्पादन के क्षेत्र में नवकिरण स्वायत्त सहकारिता द्वारा संपादित किए जा रहे कार्यों का स्थलीय निरीक्षण किया गया तथा मुख्य विकास अधिकारी एवं सहकारिता के पदाधिकारियों को उत्पादों के उचित बाजार उपलब्ध करवाने हेतु निर्देश दिए गए।
चौपाल कार्यक्रम में मुख्य विकास अधिकारी नरेश कुमार, अधिशासी अभियंता लोनिवि मनोज भट्ट, सिंचाई राजेश नौटियाल, ग्रामीण निर्माण विभाग हितेश पाल सिंह, जिला पर्यटन अधिकारी राहुल चौबे, जिला उद्यान अधिकारी योगेंद्र चैधरी, महाप्रबंधक उद्योग महेश प्रकाश, तहसीलदार दीवान सिंह राणा, खंड विकास अधिकारी सूर्यप्रकाश शाह, ग्राम प्रधान मनसूना देवेंद्र सिंह पंवार, जन प्रतिनिधि, महिला समूह की प्रतिनिधि एवं ग्रामीण मौजूद रहे।

 

Related articles

Leave a Reply

Share