पूर्व बीजेपी विधायक बोले- गोतस्करी और गोहत्या में शामिल लोग आतंकवादी

पूर्व बीजेपी विधायक बोले- गोतस्करी और गोहत्या में शामिल लोग आतंकवादी

जयपुर :  भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के प्रदेश उपाध्यक्ष और अलवर जिले के रामगढ़ से पूर्व विधायक ज्ञानदेव आहूजा ने कहा है कि गोतस्कर और गोहत्यारे आतंकवादी जैसे ही हैं। यही नहीं, उन्होंने प्रदेश की कांग्रेस सरकार से गोतस्करी और हत्या का विरोध करने की मांग की है।
अलवर में मीडिया से बातचीत के दौरान ज्ञानदेव आहूजा ने कहा, ‘गोतस्करी और गोहत्या में लिप्त लोगों को मैं आतंकवादी कहूंगा क्योंकि ये अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। प्रदेश की कांग्रेस सरकार को इस तरह के अपराधों पर रोक लगानी चाहिए।’ यही नहीं, उन्होंने कहा कि अलवर बहुत सीधे लोगों का जिला है लेकिन वे गाय के प्रति श्रद्धा रखते हैं। उन्होंने कहा कि अलवर में मॉब लिन्चिंग जैसा कुछ नहीं है। प्रशासन द्वारा संज्ञान न लिए जाने पर लोगों का गुस्सा गोहत्या और गोतस्करी करने वालों पर निकलता है। यह कोई योजनापूर्वक हत्या या पिटाई नहीं है।

बीजेपी नेता बोले- मुसलमान करें गोवध का विरोध
आहूजा ने कहा कि मुसलमानों को अपने बड़े भाई हिंदुओं की भावनाओं का सम्मान और आदर करते हुए गोमांस नहीं खाना चाहिए और गोवध का विरोध करना चाहिए। उन्होंने पहलू खान मॉब लिन्चिंग मामले का जिक्र करते हुए कहा कि इस संबंध में छह निर्दोष लोगों पर मामला दर्ज किया गया था। हालांकि, जांच में पाया गया कि वे घटना के दिन मौके पर मौजूद ही नहीं थे और उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया।

‘नहीं हूं हत्या और मारपीट का समर्थक’
बीजेपी के प्रदेश उपाध्यक्ष ने यह भी स्पष्ट किया कि वह किसी की मारपीट और हत्या के समर्थक नहीं है। उल्लेखनीय है कि हाल ही में अलवर जिले के किशनगढ़ बास थाना क्षेत्र में कथित गोतस्कर द्वारा अवैध रूप से गोवंश के परिवहन करने पर सगीर खान (23) के साथ कुछ ग्रामीणों ने मारपीट की थी। पुलिस ने बताया कि खान के खिलाफ गोवंश तस्करी का मामला दर्ज किया गया है और उस पर पूर्व में दर्ज ऐसे मामले में वह जमानत पर रिहा किया गया है।

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share