कब बुझेगी जंगलों की आग – गंगा से लेकर यमुना घाटी तक जल रहे जंगल

कब बुझेगी जंगलों की आग – गंगा से लेकर यमुना घाटी तक जल रहे जंगल

उत्तराखंड के जंगलों में लगी आग थमने का नाम नहीं ले रही है। प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में जंगल धधक रहे हैं, लेकिन कुछ स्थानों स्थिति गंभीर होती जा रही है। उत्तरकाशी जनपद में गंगा से लेकर यमुनाघाटी तक जंगल धू-धूकर जल रहे हैं। उत्तरकाशी जिला मुख्यालय से लगे मुखेेम रेंज के जंगल में चार दिनों से आग लगी हुई है। उधर, यमुनोत्री हाईवे पर राड़ी टॉप से लगा जंगल भी आग की चपेट में आ गया है। बीते मंगलवार को जंगल की आग यमुना नदी के तटवर्ती क्षेत्र में मजदूरों के डेरे तक पहुंच गई थी, जिसमें उनका सामान जल गया। हालांकि बाद में आग पर काबू पा लिया गया था।

जिला मुख्यालय उत्तरकाशी से लगे मुखेम रेंज और बाड़ाहाट रेंज के जंगलों में आग नहीं बुझ रही है। बीते रविवार से धधक रहे जंगलों में रुक-रुककर आग लग रही है। गत मंगलवार रात को मुखेम रेंज के जंगल में लगी आग बड़ेथी-मनेरा बाईपास मार्ग के पास तक पहुंच गई थी। जंगल में लगी आग से बाईपास मार्ग पर पत्थर भी गिरे, जिसके चलते यात्री वाहनों ने जोखिम के साथ आवाजाही की। हालांकि सूचना पर वन विभाग व फायर की टीम ने मौके पर पहुंचकर आग बुझाने का प्रयास किया। बुधवार को भी मुखेम रेंज के जंगलों में कई जगह आग लगी रही। वहीं बुधवार दोपहर बाद बाहाड़ाट रेंज के गुफियारा से लगे जंगल भी में आग लग गई। सूचना पर यहां वन विभाग की 15 सदस्यीय टीम आग बुझाने में जुटी हुई है।

दूसरी तरफ, यमुनोत्री हाईवे पर राड़ी टॉप क्षेत्र के जंगल भी वनाग्नि की चपेट में आ गए है, जिससे यमुनाघाटी में धुंआ छाया हुआ है। आग का सिर्फ फौरी तौर पर नुकसान नहीं दिख रहा है। इसका नुकसान आने वाले कई दशकों तक दिखेगा।

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share